Monday, April 27, 2015

एम्स फोन से करेगा मिरगी रोगियों की देखरेख

म्स के न्यूरोलॉजी विभाग द्वारा किए गए अध्ययन में पाया गया कि कई रोगियों को संबंधित चिकित्सक से फोन पर परामर्श प्रदान कर राहत पहुंचाया जा सकता है और उन्हें लंबी दूरी की यात्रा के तनाव से मुक्ति दी जा सकती है।

taazakhabarnews.in/एम्स-फोन-से-करेगा-मिरगी-रो/